Friday, 19 February 2016

कुछ यादे है...!!!

वो राज तुम्हारी आँखों का,
वो जादू तुम्हारी बातो का,
वो खूबसूरती ढलती शामो की,
वो तन्हाई गहराती रातो की,
वो छुअन तुम्हारे एहसासों की,
वो तूफान तुम्हारे जज्बातों का,
सभी कुछ तो वही है,
कुछ बदला नही है,
यही कुछ यादे है,
हमारी मुलाकातो की..!!!

7 comments:

  1. आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" रविवार 21 फरवरी 2016 को लिंक की जाएगी............... http://halchalwith5links.blogspot.in पर आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल रविवार (21-02-2016) को "किन लोगों पर भरोसा करें" (चर्चा अंक-2259) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  3. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, " बड़ी बी की शर्तें - ब्लॉग बुलेटिन " , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर अहसास भरी यादें.....आभार आपका ..अच्छा लगा आपके ब्लॉग पर पहुंचकर

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर

    ReplyDelete
  6. वाह........सुन्दर

    ReplyDelete