Wednesday, 5 February 2014

Valentine special...प्यार के रंग घुलने लगे है

अब रंगो में प्यार के रंग मिलने लगे है 
किसी के आने से मेरी भी जिंदगी में.. 
इंद्रधनुष रंग भरने लगे है....!

प्यार का रंग कुछ एस तरह चढ़ रहा है 

कि चेहरे कि रंगत बदलने लगी है ...!                

किसी के दिए रंगो से
मेरे दिल ने प्यार कि 
रंगोली ऐसी सजायी है....! 
किसी कि डोली आयी है 
तो कही बजी शहनाई है ....!

रंगो में प्यार के रंग घुलने लगे है 

धड़कने तेज होने लगी है ..
दिन प्यार के चलने लगे है ....!

10 comments:

  1. वसंत के आगमन के साथ प्रेम का रंग वैसे भी वातावरण् में बिखरने लगता है!!

    ReplyDelete
  2. आपकी यह उत्कृष्ट प्रस्तुति कल शुक्रवार (07.02.2014) को " सर्दी गयी वसंत आया (चर्चा -1515)" पर लिंक की गयी है,कृपया पधारे.वहाँ आपका स्वागत है,धन्यबाद।

    ReplyDelete
  3. सुंदर तस्वीर और सुंदर शब्द भी ...!!

    ReplyDelete
  4. पेंटिंग जैसे ही खूबसूरत रंग ...

    ReplyDelete
  5. सुन्दर प्यार की रंगोली सजाई है !

    ReplyDelete
  6. प्रेम दिवस पर प्यार से सराबोर कविता।

    ReplyDelete