Saturday, 3 August 2013

हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है......!!!


जिन्दगी के हर मोड़ पर,                       
इक दोस्त की जरुरत होती है.....
हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है......

दिल की बाते दिल तक पहुँचाती,
बिना शब्दों के सब कुछ कह जाती....
दोस्ती होती है......
हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है......

न जाने कितने अनछुए पल,
न जाने कितनी अनकही बाते,
जिनसे मैं खुद भी अनजान थी
वो सारी सखियों को पता होती है....
कितने राज़ छुपाये....
ये दोस्ती होती है.......
हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है......

न जाने कितने ख्वाब देखे इन आँखों ने,
न जाने कितनी बार बादल बरसे है....इन आँखों से,
हम खुद भी बेखबर रहे है......जिन बातो से..
उन बातो की गवाह......
दोस्ती होती होती है........!!!
हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है......

29 comments:

  1. खुबसूरत कृति....

    ReplyDelete
  2. बात तो सही है
    बहुत सुंदर

    ReplyDelete
  3. सच ही दोस्ती के रिश्ते बहुत ही खुबसूरत होते हैं......
    बहुत खुबसूरत रचना !!

    ReplyDelete
  4. दोस्ती जान होती है ... भगवान होती है ...
    सुन्दर भाव ...

    ReplyDelete
  5. बिलकुल -
    शुभकामनायें आदरेया-

    ReplyDelete
  6. न जाने कितने अनछुए पल,
    न जाने कितनी अनकही बाते,
    जिनसे मैं खुद भी अनजान थी
    वो सारी सखियों को पता होती है....
    कितने राज़ छुपाये....
    ये दोस्ती होती है.......
    हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है..

    लाजवाब करती बेहतरीन एहसास

    ReplyDelete
  7. आपकी इस प्रस्तुति की चर्चा कल सोमवार [05.08.2013]
    गुज़ारिश दोस्तों की : चर्चामंच 1328 पर
    कृपया पधार कर अनुग्रहित करें
    सादर
    सरिता भाटिया

    ReplyDelete
  8. बहुत खुबसूरत रचना...................

    ReplyDelete
  9. सच मेँ आपने दोस्ती की भावमय बात कही है । दोस्ती मेँ सब कुछ समा जाता है । मैत्री दिवस की शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  10. har rishte me dosti sabse upar hai,chunki hum banate hain......kya khoob

    ReplyDelete
  11. बहुत ही सुन्दर और सार्थक प्रस्तुती,आभार।

    ReplyDelete
  12. न जाने कितने ख्वाब देखे इन आँखों ने,
    न जाने कितनी बार बादल बरसे है....इन आँखों से,
    हम खुद भी बेखबर रहे है......जिन बातो से..
    उन बातो की गवाह......
    दोस्ती होती होती है........!!!
    हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है...

    वाह ,लाजवाब , ढेरो शुभकामनाये ,

    यहाँ भी पधारे

    http://shoryamalik.blogspot.in/

    ReplyDelete
  13. दोस्ती सचमुच एक बेहद खुबसूरत रिश्ता है
    सुन्दर रचना

    ReplyDelete
  14. बहुत खुबसूरत रचना......

    ReplyDelete
  15. हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है .....सच !कहा...
    शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  16. बहुत सुमदर प्रस्तुति । मैत्री-दिवस पर अनेक शुभ कामनाएं ।

    ReplyDelete
  17. beautiful...


    meri nayee post pe aapka swaagat hai :

    http://raaz-o-niyaaz.blogspot.in/2013/08/blog-post.html

    ReplyDelete
  18. दोस्ती ऐसा रिश्ता है जहॉ शब्द छोटे पड जाते हैं ,चिन्तन स्वतः सम्प्रेषित होने लगते हैं । कुछ कहने की आवश्यकता नहीं होती,निसर्ग स्वतः आपकी बात को कहने लगती है । सुन्दर रचना ।

    ReplyDelete
  19. bahut he acha likha...http://9shonalimukherji9.blogspot.in/

    ReplyDelete
  20. हम खुद भी बेखबर रहे है......जिन बातो से..
    उन बातो की गवाह......
    दोस्ती होती होती है.....bahut sundar sushma ji.....bahut khoob........

    ReplyDelete
  21. बहुत सुंदर प्रस्तुति...बेहद सरल-सुंदर शब्दों में दोस्ती की अहमियत जता दी आपने।।।

    ReplyDelete
  22. बहुत सुंदर , आपकी इस उत्कृष्ट रचना की प्रविष्टि कल रविवार ब्लॉग प्रसारण http://blogprasaran.blogspot.in/ पर भी .. कृपया पधारें

    ReplyDelete
  23. बहुत सुन्दर रचना.

    ReplyDelete
  24. उन बातो की गवाह......
    दोस्ती होती होती है........!!!
    हर रिश्ते में खुबसूरत दोस्ती होती है...

    ..........वाह लाजवाब !!!

    ReplyDelete
  25. न जाने कितने ख्वाब देखे इन आँखों ने,
    न जाने कितनी बार बादल बरसे है....इन आँखों से,
    हम खुद भी बेखबर रहे है......जिन बातो से..
    उन बातो की गवाह......
    दोस्ती होती होती है........!!!

    ReplyDelete